ख़बरें विदेश

पुणे में लोगों ने नाईजीरियन युवक को खंभे से बांध कर पीटा

पुणे। महाराष्‍ट्र के पुणे से एक बहुत ही चौकानें वाली खबर आ रही है। यहां पर एक नाईजीरियन युवक को लोगों की भीड़ ने एक खंभें से बांध कर पीटा क्‍योकि उसने नशे की हालत में अपने कपड़े उतार दिए थे।

2 घंटे तक चलता रहा तमाशा

पुलिस के अनुसार ये ड्रामा पूरे 2 घंटे चला। स्‍थानीय लोगों का आरोप है कि नाईजीरियन युवक बुंदुकी सलीमा रचेट ने अपने कपड़े सरेआम उतारने शुरू कर दिए थे और आसपास से गुजरती महिलाओं से अभद्रता की।

महिलाओं से की थी अभद्रता

लोगो ने बताया कि इस के बाद आसपास लोग इकट्टा होने शुरू हो गए और नाईजीरियन युवक को एक खंभे से बांध कर पीटना शुरू कर दिया।

बीबीए तृतीय वर्ष का छात्र है आरोपी नाईजीरियन युवक

नाईजीरियन युवक भारती विद्यापीठ डीमड विश्‍वविद्यालय, पुणे में बीबीए तृतीय वर्ष का विद्यार्थी है। प्राथमिक पूछताछ के बाद पुलिस नाईजीरियन युवक को पास के अस्‍पताल ले गई जहॉं घटना के बाद उसका ईलाज शुरू किया गया।

अग्रेजी में बडबड़ाते हुए उतारने लगा था कपड़े

एक प्रत्‍यक्षदर्शी ने बताया कि ये युवक पहले तो हमारी फर्नीचर की दुकान के सामने शांत खड़ा था, और अपने आप से ही बात करता हुआ कुछ बुदबुदा रहा था। और उसके बाद इसने अचानक से अपनी जेब से अपना सेलफोन निकाला और जमीन पर फेंक दिया, और फिर अग्रेजी में बडबड़ाते हुए एक एक करके अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए। और जैसा की इस रोड़ पर आगे एक ट्रफिक सिग्‍नल है तो आसपास से गुजरने वाले सभी वाहन लाल बत्‍ती पर रूक गए। उसके बाद इस नाईजीरियन युवक ने लाल बत्‍ती पर रूकी एक मर्सीडिज कार का फ्रंट शीशा तोड़ दिया और पास ही ई रिक्‍शा में बैठें एक कपल पर भी हमला कर दिया।

पास ही खड़ी बस में नग्‍न अवस्‍था में चढ़ कर महिलाओं से की अभद्रता

उसके बाद पास ही खड़ी एक पीएमपीएमएल बस में नाईजीरियन युवक नग्‍न होकर घुस गया जिसमें की अधिकतर महिआऐं ही थी। महिलाओं के साथ इसने अभद्रता की, जिसके बाद मैनें और मेरे कुछ साथियों ने डड़ें लेकर इसको रोकने की कोशिश की, लेकिन यह तब भी नही रूका और खाली हाथों से ही हम लगभग 15 युवकों से लड़ता रहा। और अग्रेजी में गालियां देता रहा।

एक और प्रत्‍यक्षदर्शी से बात करने पर उसने बताया कि मैं अपनी बाईक पर जा रहा था जब अचानक रेड लाईट सिग्‍नल पर इस युवक ने मुझ पर हमला कर दिया और मेरे कपड़े भी फाड़ दिए। बाद में 15-20 लोगों की सहायता से हमने इसे पकड़ा और पुलिस के आने तक एक लोहे के खंभे से बांध दिया।

मीडि़या से बोला पहनने दो कपड़े

जब मीडि़याकर्मियों ने रचेट से बात करने की कोशिश की तो उसने कहा ‘मै घुटनें टेक कर भगवान से प्रार्थना करना चाहता हूँ, मुझे बैनर के पास जाना है, प्‍लीज मुझे मेरे कपड़े पहनने दीजिए।’

 

(टीम मध्‍यमार्ग)

मध्यमार्ग से जुड़ने के लिए शुक्रिया, हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारी आर्थिक मदद करें