ख़बरें

बहुजन युवती से बाबा ने किया रेप, एससी एसटी एक्‍ट मे मुकदमा दर्ज

सीतापुर। एक बार फिर एक बाबा पर एक अनुसूचित जाति की युवती के  साथ यौन  शोषण का मामला सामने आया है। इस बार विश्व प्रसिद्ध चक्रतीर्थ नैमिषारण्य के कथित महंत सियाराम दास पर यौन शोषण का आरोप लगा है। महंत सियाराम दास दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार किए गए हैं।

आरोपी बाबा की गिरफ्तारी के बाद, बाबा का सहअपराधी फरार

युवती का आरोप है कि उसको तीन व्‍यक्‍त‍ि आशीष शुक्‍ला, अनिरूद्ध ठाकुर व एक और अन्‍य किसी व्‍यक्‍त‍ि ने युवती को बाबा को बेचा। युवती को खरीदने के बाद बाबा ने 8 महिनें तक युवती से लगातार बलात्‍कार किया और अमानवीय प्रताडनाऐं दी।

युवती ने आगे बताया कि किसी तरह आज मौका पाकर उसने 100 नंबर पर कॉल करके पुलिस को सूचना दी तब पुलिस ने युवती को बाबा की कैद से मुक्‍त कराया।

खबर है कि सोमवार रात जिले के रामपुर कलां थाना क्षेत्र की एक युवती की शिकायत पर पुलिस ने सियाराम दास और उसके स्कूल की प्रबंधन रिन्टू सिंह के खिलाफ मामला दर्ज किया है। केस दर्ज करने के बाद रामपुर कलां थाना पुलिस ने कथित महंत के ठिकाने पर छापामार कर उसे गिरफ्तार कर लिया। वहीं, दूसरा आरोपी रिन्टू सिंह फरार हो गया। पुलिस उसे पकडऩे के लिए छापेमारी कर रही है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही रिन्टू को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

गर्ल्‍स इंटर कॉलेज और लॉ कॉलेज का मालिक है आरोपी बाबा

संत आशाराम, बाबा राम रहीम, संत रामपाल और फलाहारी बाबा के बाद अब विश्व प्रसिद्ध चक्रतीर्थ नैमिषारण्य के कथित महंत सियाराम दास पर दुष्कर्म का आरोप एक युवती ने लगाया है। मालूम हो कि महंत सियाराम दास कॉन्वेन्ट स्कूल, एक इंटर कॉलेज और एक लॉ कॉलेज का स्वामी है। लॉ कॉलेज का उद्घाटन सन् 2015 में हुआ था। मिश्रिख के पुलिस क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह के मुताबिक सोमवार देर रात युवती ने यूपी डायल 100 पुलिस को उत्पीडऩ मामले की सूचना दी। पुलिस सियाराम दास को उसके आवास से युवती के साथ पकड़ कर थाने ले आई। क्षेत्राधिकारी राधारमण सिंह के मुताबिक प्रथम दृष्टया युवती के आरोप सही पाए गए हैं। इसके बाद आरोपी महंत पर केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, उसका दूसरा साथी रिन्टू मौके से फरार हो गया है। उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में किया गया है मामला दर्ज

रामपुर कलां थाना पुलिस के मुताबिक सियाराम दास व उसके स्कूलों की प्रबंधिका के खिलाफ दुष्कर्म और एससी-एसटी की धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया है। सीओ ने बताया कि कथित बाबा सियाराम दास को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि प्रबंधिका रिन्टू सिंह की तलाश की जा रही है।

गर्ल्‍स कॉलेज खोलना चाहता था आरोपी बाबा

सियाराम दास मिश्रिख कस्बे में कक्षा आठ तक एक इंग्लिश मीडियम स्कूल, एक इंटर कॉलेज और एक लॉ कॉलेज का संचालन करता है। बताया जाता है कि वह एक डिग्री कॉलेज भी खोलने की तैयारी में था।

 

मध्यमार्ग से जुड़ने के लिए शुक्रिया, हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं, हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए हमारी आर्थिक मदद करें