ख़बरें

‘हिन्दू में माल और माल दोनों मिलता है’ दिल्‍ली यूनिवर्सिटी के ‘’हिन्‍दू कॉलेज’’ में लगे पोस्‍टर

नई दिल्ली। महिलाओं को लेकर समाज में जो सोच बनाई गई है वह बहुत ही घृणा से भरी हुई है। हजारों सालों से महिलाओं पर हो रहे अत्याचार आज भी बरकरार हैं। लेकिन हाल के दिनों में थोड़ा सा उन अत्याचारों का स्वरूप जरूर बदला है। आज भी महिलाओं को पुरूषों से कमतर आंका जाता है […]

बीजेपी के सीएम, पीएम की अलोचना करना हो गया अपराध – मायावती

नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट वाली ख़बर पर सारा मीडिया झूठ बोल रहा है

अंतर्राष्ट्रीय मीडिया के नॉर्थ कोरिया से एकदम अलग है हकीकत का नॉर्थ कोरिया

केरल के मंदिरों में अनुसूचित जाति के लोगो को आरक्षण देकर बनाया जा रहा पुजारी

खेल-मनोरंजन मुद्दे सोशल

“मिलेनियम बॉयज” क्रिकेट के देश में फुटबॉल को जीवित रखे है ये लड़के

आबादी के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर रहने वाले भारत को फुटबॉल विश्वकप में खेलते देखना उन ‘हज़ारों ख्वाहिशों’ में से एक है, जिन्हें ‘दम निकलने’ से पहले पूरी होते देखना चाहता हूँ। भले ही अंडर-17 विश्वकप में असली विश्वकप सरीखा ग्लैमर और प्रतिस्पर्धा न मौजूद हो, इस तथ्य को नजरअंदाज नहीं किया […]

‘फेक न्यूज़’ से निपटने के लिए फेसबुक ला रहा है नया ‘Context’ बटन

भारतीय भोजन, कुपोषण, मानसिक दिवालियापन और डॉ भीमराव अम्बेडकर

सिंर्फ धांधलेबाजी नहीं, अघोषित जा‍तीय आरक्षण है म0प्र0 लोक सेवा आयोग घोटाला

कहाँ खड़ा है भारतीय लोकतंत्र ?

मुद्दे विज्ञान-टेक्नोलॉजी

आकांक्षा की भिज्ञताओं और अनभिज्ञताओं के अपने-अपने धर्म-संकट हैं

  मन में इच्छा जगना मूल वृत्ति है। हर कर्म का उद्भव मानसिक ही होता है। यौनकर्म भी पहले-पहले मन में घटता है। जो अभीष्ट लगेगा, उसी के लिए कल्पनाएँ आकार लेंगी। अनभीष्ट अकल्पित ही रह जाएगा। जो कल्पित हो गया, वह सत्य भी हो सकता है। यौनेच्छा ( Sexual Desire ) पर बात की […]

मुद्दे स्त्री-विमर्श

अभिशाप ही नहीं, सबसे गंदी गाली भी है “लड़की होना”

दो फोटों थीं एक फोटो में मुझे ड्रकुला (शैतान) की तरह दिखाया गया था, और दूसरी फोटो में मैं एक लड़की जैसा दिख रहा हूँ (जो अभी भी मेरी प्रोफाईल फोटो है)। जब दोनों को बारी-बारी से प्रोफाईल फोटो बनाने का विचार आया तो  मैं हतप्रभ था ये जानकर कि आज भी कितना मर्दवाद मेरे […]

व्यंग

दो दुना चार होता है लेकिन आप कह रहे हैं छह होता है तो छह ही होगा

दो दुना छह होता है । क्यों ? क्योंकि मैं कह रहा हूं । जी सर , सही कहा आपने । दो दुना चार होता है लेकिन आप कह रहे हैं छह होता है तो छह ही होगा । देखो तुम अभी भी गलत कह रहे हो । चार का बिल्कुल भी उल्लेख नहीं करना […]

मुद्दे व्यंग

काल चक्र, समय का पहिया और स्वयं को दोहराता इतिहास

सनातन संस्कृति और जड़ों से जुड़े लोग अच्छी तरह जानते ही हैं की सृष्टि में सभी कुछ चक्र में चलता है । ब्रह्माण्ड बिग बैंग के चलते फैलता सिकुड़ता है । सत, त्रेता, द्वापर, कल युगों का पहिया घूमता है । सूरज अपनी जगह, सभी ग्रह अपने ध्रुवों पे घूमते हैं, आत्मा तीनों लोकों में, […]

मुद्दे स्त्री-विमर्श

अभिशाप ही नहीं, सबसे गंदी गाली भी है “लड़की होना”

दो फोटों थीं एक फोटो में मुझे ड्रकुला (शैतान) की तरह दिखाया गया था, और दूसरी फोटो में मैं एक लड़की जैसा दिख रहा हूँ (जो अभी भी मेरी प्रोफाईल फोटो है)। जब दोनों को बारी-बारी से प्रोफाईल फोटो बनाने का विचार आया तो  मैं हतप्रभ था ये जानकर कि आज भी कितना मर्दवाद मेरे […]

ख़बरें स्त्री-विमर्श

16 वर्षीय लड़की ने दो साल से बलात्कार कर रहे पिता की, कर दी हत्या

संभल। पुलिस ने बताया कि संभल जिले की एक 16 वर्षीय लड़की ने कथित रूप से अपने पिता की सोमवार की रात को हत्या कर दी। वह व्यक्ति पिछले दो सालों से कथित रूप से अपनी बेटी का यौन उत्पीड़न कर रहा था और नौ साल पहले कथित तौर पर उसकी मां की भी हत्या कर दी थी। पुलिस ने कहा कि […]

खेल-मनोरंजन मुद्दे सोशल

“मिलेनियम बॉयज” क्रिकेट के देश में फुटबॉल को जीवित रखे है ये लड़के

आबादी के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर रहने वाले भारत को फुटबॉल विश्वकप में खेलते देखना उन ‘हज़ारों ख्वाहिशों’ में से एक है, जिन्हें ‘दम निकलने’ से पहले पूरी होते देखना चाहता हूँ। भले ही अंडर-17 विश्वकप में असली विश्वकप सरीखा ग्लैमर और प्रतिस्पर्धा न मौजूद हो, इस तथ्य को नजरअंदाज नहीं किया […]

ख़बरें खेल-मनोरंजन

एक्ट्रेस जिया खान की माँ ने लगाया हत्या को सुसाइड में बदलने का आरोप, लिखा पीएम मोदी को खत

नई दिल्ली। एक्ट्रेस जिया खान की मौत को लेकर उनकी मां राबिया खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर न्याय मांगा है। उन्होंने आरोप लगाया कि पूरे मामले में लोकल पुलिस ने उनकी बेटी की हत्या को सुसाइड का मामला बना दिया। जिया खान की हुई थी हत्या उन्होंने  दावा किया कि 3 जून […]

वीडिओज़

कुछ मिला जुला कर

स्कूल ने अनुसूचित जाति के छात्रों से साफ कराया सेप्टिक टैंक

पोंगा पंडितों ने सिर्फ बुद्ध की ही ह्त्या नहीं की, उन्होंने कृष्ण के साथ भी बर्बरता दिखाई है

लड़की और लड़का- बराबरी की हकीकत

नीट परीक्षा के आरक्षण में हुई गड़बड़ को लेकर ओबीसी प्रतिनिधि मंडल ने जे.पी. नड्डा से की मुलाकात

रोहिंग्या : दिल्ली के किशनगढ़ की आँख से

ऑनर किलिंग में दो लोगो की मौत, लडके के परिवार पर बरसाई ताबड़तोड गोलियां

त्रिपुरा के पत्रकार शांतनु भौमिक की चाकुओं से हमला कर की हत्या

अमित शाह के घंमड ने हरा दी बीजेपी को बवाना सीट ?

तुम उस धर्म की जय कर रहे हो जिसने तुम्हे इंसान नहीं बस जानवर समझा है !

सुब्रमण्‍यम स्‍वामी को छात्राओं में नजर आते है नक्‍सली, BHU आदोंलन को बताया नक्‍सलियों का आदोंलन

ख़बरें मुद्दे विदेश

अंतर्राष्ट्रीय मीडिया के नॉर्थ कोरिया से एकदम अलग है हकीकत का नॉर्थ कोरिया

उत्तर कोरिया  और उसकी सरकार एक बार फिर से सुर्खियों में है. यह बताने की जरुरत नहीं कि उत्तर कोरिया  किस वजह से सुर्खियों में रहता है. उत्तर कोरिया के बारे में  सिर्फ यही कहा जा सकता है कि एक देश को बदनाम करने के लिए जितने हथकंडे अपनाये जा सकते हैं वो अपनाये गए […]

ख़बरें विज्ञान-टेक्नोलॉजी विदेश सोशल

‘फेक न्यूज़’ से निपटने के लिए फेसबुक ला रहा है नया ‘Context’ बटन

फेसबुक ने कहा है कि वह एक नए “बटन” पर परीक्षण कर रहा है। ताकि दुनिया की सबसे बेहतरीन सोशल  नेटवर्किंग साइट के उपयोगकर्ताओं को गलत सूचना को रोकने के लिए खबर के सोर्स के बारे में एक से अधिक स्रोत के बारे में जानकारी मिल सके। नई फीचर उपयोगकर्ताओं को फेसबुक और इसके न्यूज़ फीड को छोड़े बिना एक क्लिक […]

मुद्दे विदेश

अजी ! मातम वाले तो वे दूसरे हैं, उनका उधर वाले रस्ते पर निकलरा.. हम तो ख़ुशी वाले हैं

मुहर्रम और ख़ुशी? हमारे गांव में शिया नहीं हैं लेकिन ताज़िया निकाला जाता है। मातमपुर्सी नहीं, नोहे नहीं। शिया सोगवारों की रवायत की कोई छाया नहीं। ताज़िये के आगे ढोल की थाप पर पूरे जोश के साथ पटेबजी करते युवाओ का समूह ही हमारे गांव में ‘ताज़िया निकलना’ कहलाता है। इस बार नई बात यह […]

मुद्दे विज्ञान-टेक्नोलॉजी

आकांक्षा की भिज्ञताओं और अनभिज्ञताओं के अपने-अपने धर्म-संकट हैं

  मन में इच्छा जगना मूल वृत्ति है। हर कर्म का उद्भव मानसिक ही होता है। यौनकर्म भी पहले-पहले मन में घटता है। जो अभीष्ट लगेगा, उसी के लिए कल्पनाएँ आकार लेंगी। अनभीष्ट अकल्पित ही रह जाएगा। जो कल्पित हो गया, वह सत्य भी हो सकता है। यौनेच्छा ( Sexual Desire ) पर बात की […]

ख़बरें विज्ञान-टेक्नोलॉजी विदेश सोशल

‘फेक न्यूज़’ से निपटने के लिए फेसबुक ला रहा है नया ‘Context’ बटन

फेसबुक ने कहा है कि वह एक नए “बटन” पर परीक्षण कर रहा है। ताकि दुनिया की सबसे बेहतरीन सोशल  नेटवर्किंग साइट के उपयोगकर्ताओं को गलत सूचना को रोकने के लिए खबर के सोर्स के बारे में एक से अधिक स्रोत के बारे में जानकारी मिल सके। नई फीचर उपयोगकर्ताओं को फेसबुक और इसके न्यूज़ फीड को छोड़े बिना एक क्लिक […]

मुद्दे विज्ञान-टेक्नोलॉजी

शुक्राणुओं की संख्‍या बढ़ाने में कैसे मददगार है आपका शारीरिक ताप ?

बॉक्सर पहना जाए कि ब्रीफ़? कौन सा अण्डरवीयर-डिज़ायन शुक्राणु-निर्माण के लिए बेहतर है? मौसम गरम हो तो शुक्राणु कम बनेंगे? सर्दी में उनका उत्पादन अधिक होगा? पहली बात कि यह सच है कि पुरुष के वृषण-कोष या स्क्रॉटम जितना मुख्य देह के समीप रहेंगे, उतना उनका ताप शरीर-जैसा होगा। शरीर जैसा यानी 37 डिग्री सेल्सियस […]